देश / मुख्य खबर

जल्‍द ही भारतीय रेलवे को मिलने वाली हैं हाई स्‍पीड ट्रेनें

जल्‍द ही भारतीय रेलवे को मिलने वाली हैं हाई स्‍पीड ट्रेनें

जल्‍द ही भारतीय रेलवे को हाई स्‍पीड ट्रेनें मिलने वाली हैं। इसे विदेशों में चलने वाली हाई स्‍पीड ट्रेनों के तर्ज पर तैयार किया जा रहा है। इस ट्रेन की खास बात यह है कि यह बिना इंजन के दौड़ेगी। यही नहीं, प्‍लेटफॉर्म छोड़ते हीं यह 160 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार पकड़ लेगी। इसे नवंबर तक ट्रैक पर उतारने की योजना है। अच्‍छी बात यह भी है कि पूरी ट्रेन पूर्ण रूप से स्‍वदेशी होगी, जिसका निर्माण चेन्नई इंटीगरल रेल कोच फैक्ट्री में किया जा रहा है।

चेन्नई इंटीगरल रेल कोच फैक्ट्री के संबंधित अधिकारी का कहना है कि हाई स्पीड ट्रेन का निर्माण कार्य तेज कर दिया गया है। उम्‍मीद है कि स्वदेशी तकनीक से तैयार यह ट्रेन सितंबर तक पूरी तैयार हो जाएगी और इसे नवंबर तक ट्रैक पर उतार लिया जाएगा। बताया गया कि इस फैक्ट्री में ऐसी छह ट्रेनें तैयार की जा रही है।

कैसी दिखेगी यह ट्रेन

फिलहाल इसे शताब्दी की तरह चेयर कार बनाया गया है।  जल्द ही स्लीपर कोच वाला ट्रेन सेट भी तैयार किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बताया था कि इस तरह के ट्रेन सेट बनाने के लिए रेलवे अलग से कोच फैक्ट्री बनाने पर भी विचार कर रहा है।

कहां दौड़ेंगी ये ट्रेन

योजना के अनुसार इस ट्रेन को शताब्दी के रूट पर चलाया जाएगा। चेयरकार वाली यह ट्रेन 5-6 घंटे के रूट पर ही चलेगी। इसे दिल्ली-चंडीगढ़, दिल्ली-लखनऊ, दिल्ली-कानपुर, मुंबई-पुणे के बीच चलाने की योजना है।

ट्रेन में क्‍या है खास

एक कोच में 56 यात्रियों के बैठने की क्षमता है और 14 इकोनॉमी क्लास वाले कोच बनाए जा रहे हैं। मेट्रो ट्रेनों की तरह इसका हर कोच अपने आप में इंजन होगा। इस तरह ट्रेन को चलाने के लिए अलग से इंजन की जरूरत नहीं पड़ेगी। 16 कोच वाली ट्रेन में दो एग्जिक्यूटिव क्लास भी होंगे।

Share This Post

Lost Password

Register