Loading...
देश

अनिश्चितकालीन हड़ताल पर गए AIIMS के रेजिडेंट डॉक्टर्स

अनिश्चितकालीन हड़ताल पर गए AIIMS के रेजिडेंट डॉक्टर्स

देश के सबसे बड़े अस्पताल एम्स के रेजिडेंट डॉक्टर एक बार फिर हड़ताल पर हैं। उनकी इस हड़ताल से दिल्ली में एक बार फिर मरीजों की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। साथ ही डॉक्टरों की इस हड़ताल की वजह से ओपीडी सेवा पर सबसे ज्यादा प्रभाव पड़ सकता है। हालांकि इस हड़ताल का असर इमरजेंसी और आईसीयू पर नहीं पड़ेगा।

दरअसल, एक जूनियर डॉक्टर ने एम्स के एक सीनियर डॉक्टर पर बदसलूकी का आरोप लगाया है। सीनियर डॉक्टर प्रोफेसर अतुल कुमार पर आरोप है कि उन्होंने एक रेजिडेंट डॉक्टर के साथ बदसलूकी की, उसे थप्पड़ मारा। इस घटना के बाद गुरुवार को दिनभर एम्स के रेजिडेंट डॉक्टर प्रोफेसर अतुल कुमार से माफी की मांग को लेकर प्रदर्शन करते रहे।

इसके बाद गुरुवार की शाम को ही रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन ने इस घटना के खिलाफ अनिश्चितकालीन हड़ताल की घोषणा कर दी। दरअसल, डॉक्टरों की मांग है कि प्रोफेसर अतुल कुमार इस घटना पर तुरंत माफी मांगें, साथ ही उन्हें तुरंत डॉ. आर. पी. सेंटर के प्रमुख के पद से हटाया जाए। रेजिडेंट डॉक्टरों का ये भी कहना है कि जब तक प्रोफेसर अतुल कुमार के खिलाफ एक्शन नहीं लिया जाएगा, जब तक वो अनिश्चितकालीन हड़ताल पर रहेंगे।

हालांकि, एम्स प्रशासन ने इस घटना पर एक प्रेस रिलीज जारी किया है और डॉक्टरों की हड़ताल को गैरकानूनी बताया है। बताया जा रहा है कि रेजिडेंट डॉक्टरों की इस हड़ताल से एम्स का ओपीडी सेंटर सबसे ज्यादा प्रभावित होगा, क्योंकि ओपीडी का काम ज्यादातर रेजिडेंट डॉक्टरों के जिम्मे ही होता है।

एम्स प्रशासन के मुताबिक, सभी सर्जरी को कैंसिल कर दिया गया है। साथ ही एकेडमिक कार्य जैसे पढ़ाई और परीक्षाएं भी अगले आदेश तक ठप रहेंगी। एम्स प्रशासन ने डॉक्टरों से हड़ताल जल्द खत्म करने की अपील की है।

Lost Password

Register