दुनिया

अपने ही बयान से पलटे डोनाल्ड ट्रंप

अपने ही बयान से पलटे डोनाल्ड ट्रंप

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप एक बार फिर से अपने बयान से पलट गए है। हाल में ही एक निजी चैनल को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि वे पुतिन को 2016 के चुनाव में दखल देने के लिए निजी तौर पर जिम्मेदार मानते हैं। आप को बता दें कि इससे पहले वो इस बात को ख़ारिज कर चुके हैं।

ट्रंप ने अपने बयान में कहा है कि अमेरिका का राष्ट्रपति होने के नाते यहां पर जो कुछ भी होगा, उसका जवाब मुझे देना होगा। उसी तरह रूस के राष्ट्रपति होने के नाते वहां जो कुछ भी होता है,उसकी जवाबदेही पुतिन की होगी।

आप को बता दें कि वहीं चुनाव में जीत को लेकर ट्रंप ने कहा था कि हमने शानदार प्रचार किया और यही कारण है कि मैं राष्ट्रपति हूं। एक बार फिर इन आरोपों को सिरे से खारिज कर रहा हूं कि 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में हिलेरी क्लिंटन पर जीत में रूसी हैकिंग और दुष्प्रचार ने मदद पहुंचाई थी। इस ऐतिहासिक शिखर वार्ता के बाद ट्रंप ने मीडिया से कहा था कि मुझे लगता है कि यह सबके लिए एक काफी अच्छी शुरूआत है।

दूसरी तरफ ट्रंप ने रूस के प्रति नर्म रुख दिखाया है। हाल में ही जब राष्ट्रपति भवन की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स से पूछा गया कि क्या अमेरिका रूस के निशाने पर है तो उन्होंने कहा-नहीं।

आप को बता दें कि हेलसिंकी में हुई बैठक के बाद ट्रंप ने कहा था कि राष्ट्रपति चुनाव के दौरान रूस ने किसी भी तरह का दखल नहीं दिया था। इस दौरान उन्होंने अपने देश की सुरक्षा एजेंसियों की रिपोर्ट को ही गलत बता दिया था। जिसके बाद उनकी काफी ज्यादा आलोचना की गई थी।

इसी बीच ट्रंप के बयान के बाद उठे विवाद पर रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा है कुछ अमेरिकी दोनों देशों के अच्छे संबंधों को नहीं देखना चाहते है। मॉस्को में रूसी राजदूतों को संबोधित करते पुतिन ने कहा कि कुछ लोग अपनी निजी महत्वाकांक्षाओं की वजह से दोनों देशों के बीच अच्छे रिश्ते नहीं देखना चाहते हैं। वो सिर्फ अपने राजनीतिक हित को देख रहें हैं।

Lost Password

Register