Loading...
खेल

आशीष नेहरा ने धोनी के सपोर्ट में कह डाली ये बड़ी बात…

आशीष नेहरा ने धोनी के सपोर्ट में कह डाली ये बड़ी बात…

टीम इंडिया के पूर्व खिलाड़ी आशीष नेहरा ने हाल ही में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लिया है। उन्होंने अपने करियर का आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच टी-20 मैच 1 नवंबर को न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला था। नेहरा भी धोनी को लेकर चल रहे विवाद में कूद पड़े हैं। उनका कहना है कि वह धोनी को 2020 में होने वाले टी-20 विश्व कप में खेलते हुए देखना चाहते हैं।

आपको बता दें कि हाल ही में  न्यूजीलैंड के खिलाफ खेली गई टी-20 सीरीज के दूसरे मैच में भारत को जीत के लिए 197 रन का चुनौतीपूर्ण लक्ष्य मिला था। जिसके जवाब में भारतीय टीम निर्धारित 20 ओवर में 156 रन ही बना सकी। इस हार के पीछे धोनी की धीमी बल्लेबाजी को माना जा रहा है। क्योंकि जब धोनी बल्लेबाजी करने के लिए आए थे उस समय भारत को जीत के लिए 200 की स्ट्राइक रेट से रनों की जरूरत थी।  लेकिन धोनी ने शुरुआत की 18 गेंद पर केवल 16 रन बनाए। हालांकि बाद में उन्होंने कुछ आक्रामक शॉट जरूर खेले। लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। भारत को इस मैच में 40 रनों की हार का सामना करना पड़ा था। धोनी अपनी धीमी बल्लेबाजी को लेकर पूर्व सीनियर खिलाडियों के निशाने पर आ गए। उनके ऊपर टी-20 से संन्यास लेने का दबाव डाला जा रहा है।

मीडिया खबरों के अनुसार, आशीष नेहरा ने कहा कि हर घर में बुजुर्गों की जरूरत होती है। भारत को भी धोनी की जरूरत है। जब तक धोनी का शरीर साथ देगा, वो खेलेगा। उन्होंने कहा कि अगर मैं कोच या कप्तान होता तो उनके सिर पर बैठ जाता कि उनको खेलना ही है। नेहरा ने कहा कि क्रिकेट शर्तों का खेल होता है। यहां पर परफॉर्म करना इतना आसान नहीं है। अगर वह अच्छा प्रदर्शन नहीं कर रहा होगा तो वह ऐसा पहला बंदा होगा जो कहेगा कि मैं संन्यास ले रहा हूं। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है धोनी को अपना क्रिकेट खेलने देना चाहिए। अगर मैं 39 साल की उम्र में तेज गेंबाजी कर सकता हूं तो वह क्यों नहीं खेल सकता। अगर वह फिट है तो वह खेलेगा।   नेहरा ने कहा कि धोनी अपने और देश के प्रति बेहद ईमानदार हैं। मैं चाहता हूं कि वह 2020 का टी-20 विश्व कप खेलें।

आपको बता दें कि धोनी के संन्यास को लेकर चल रहे विवाद पर वीवीएस लक्ष्मण और अजित आगरकर के बाद सौरव गांगुली ने कहा था कि अगर धोनी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पा रहा है तो उसके विकल्प के बारे में सोचना चाहिए। लेकिन मैं चाहता हूं कि धोनी को अपने प्रदर्शन में सुधार के लिए पर्याप्त मौका दिया जाना चाहिए। साथ ही 2019 विश्व कप का ध्यान भी रखना होगा।

 

 

 

[घर बैठे रोज़गार पाने के लिए Like करें हमारा Facebook Page और मेसेज करें JOB]

Lost Password

Register