Loading...
देश / मुख्य खबर

कठुआ गैंगरेप खुलासा : इस तरह हुई थी नाबालिग की हत्या

कठुआ गैंगरेप खुलासा : इस तरह हुई थी नाबालिग की हत्या

जम्मू कश्मीर के कठुआ में आठ साल की नाबालिग के साथ रेप और मर्डर केस में आरोपी सनजी राम ने बड़ा खुलासा किया है। पुलिस के मुताबिक सनजी राम ने इस बात को कबूला है कि उसने नाबालिग बच्ची की हत्या की योजना बनाई थी। पुलिस के द्वारा की गई पूछताछ में सनजी राम ने बताया कि उसे बच्ची की अगवा होने के तीन दिन बाद पता चला कि नाबालिग बच्चे के साथ रेप हुआ है। जिसके बाद उसने नाबालिग की हत्या करने का फैसला लिया।

इस मामले में जांच कर रही पुलिस ने बताया कि 10 जनवरी को बच्ची को अगवा करने के बाद पहले दिन सनजी राम के भतीजे ने रेप किया। नाबालिग के साथ बलात्कार की खबर सनजी राम को चौथे दिन यानी की 13 जनवरी को उसके भतीजे ने दी। दरअसल, देवीस्थल में पुजा करने के बाद सनजी राम ने अपने भतीजे को प्रसाद लेकर घर जाने को कहा लेकिन वह बहाना मार कर घर जाने में देरी कर रहा था। जिस पर सनजी राम को गुस्सा आ गया और उसने अपने भतीजे को जमकर पीट दिया। जिसके बाद सनजी राम के नाबालिग भतीजे को लगा कि सनजी राम को नाबालिग बच्ची के साथ बलात्कार की बात पता चल गई। इससे घबराकर नाबालिग ने सनजी राम को सारी बात बताई।

नाबालिग ने सनजी राम को बताया कि विशाल (सनजी राम का बेटा) भी इस मामले में उसका साथ दिया था। जिसके बाद सनजी राम ने बच्ची को मारने का फैसला किया। इस मामले में अपने बेटे को दूर रखने के लिए सनजी राम ने सबूतों के साथ छेड़-छाड़ किया। इसके बाद 14 जनवरी को नाबालिग बच्ची की हत्या कर दी गई। सनजी राम इस वारदात को अंजाम देकर बकरवाल समुदाय को भगाने का भी मकसद भी पूरा करना चाहता था। सनजी राम ने इस मामले में नाबालिग भतीजे को गुनाह कबूल करवाने के लिए तैयार कर दिया था। लेकिन अपने बेटे को इन सब चीजों से दूर रखा था। साथ ही उसने बेटे को अश्वासन दिया था कि उसे रिमांड पर रखा जाएगा। बाद में वो उसे छूड़ा लेगा।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को इस मामले में कठुआ में चल रही कार्यवाही को 7 मई के लिए रोक लगा दी है।

Lost Password

Register