Loading...
मनोरंजन

जन्मदिन स्पेशल: फिल्मी दुनिया के ‘पापाजी’ थे पृथ्वीराज कपूर

जन्मदिन स्पेशल:  फिल्मी दुनिया के ‘पापाजी’ थे पृथ्वीराज कपूर

पृथ्वीराज कपूर भारतीय नाट्य कला जगत के पुरोधा थे। उन्होंने पहली बार नाटकों को लोगों से सीधे आम लोगों से जोड़ा। नाट्य कला के इतिहास में हमेशा उन्हें एक प्रमुख स्तम्भ के रूप में गिना जाता है। कानून की पढ़ाई करने के बावजूद उन्होंने थियेटर को अपनी कर्मभूमि बनाई। उन्होंने 1944 में पृथ्वी थिएटर की स्थापना की और पहले आधुनिक शहरी थिएटर की अवधारणा को साकार किया। उन्होंने 16 साल से अधिक समय तक इस थिएटर की बागडोर संभाली और विभिन्न जगहों पर करीब 2,662 शो किए।

3 नवंम्बर, 1906 को जन्में पृथ्वीराज ने अपनी अभिनय प्रतिभा से न सिर्फ नाट्य जगत, बल्कि फिल्म दुनिया को भी रोमांचित किया। वे भारत की पहली बोलती फिल्म ‘आलमआरा’ का भी अहम हिस्सा थे। फिल्मी दुनिया के शुरुआती दौर के ‘हैंडसम’ अभिनेताओं में पृथ्वीराज कपूर की भी गिनती होती है। पर्दे पर उन्होंने सिकंदर और अकबर जैसे ऐतिहासिक किरदारों को जीवन्त किया।

‘मुगल-ए-आजम’ को हिन्दी सिने जगत की कालजयी फिल्म बनाने में पृथ्वीराज कपूर का भी अहम योगदान रहा है। उन्होंने अकबर की भूमिका जिस शिद्दत से निभाई, उसके बाद लोग अकबर की कल्पना ही पृथ्वीराज कपूर के रूप में करने लगें। पृथ्वीराज जब ‘मुगल-ए-आजम’ की शूटिंग के लिए मेकअप करने के लिए जाते तो जोर से चिल्ला कर कहते ‘पृथ्वीराज जा रहा है’ और जब मेकअप करके बाहर निकलते तो कहते कि ‘मुगल शहंशाह अकबर बाहर आ रहे हैं।’

‘मुगल-ए-आजम’ के हर एक सीन में उन्होंने अपने अभिनय से जान डाल दी थी। जब वो भर्राए हुए गले से अपने बेटे सलीम को ‘शेखू’ कहते हैं, तो सभी दर्शक अन्दर तक सिहर जाते हैं। जब वो अपनी कड़क और रौबदार आवाज में अनारकली से कहते हैं, “अनारकली, सलीम की मोहब्‍बत तुम्‍हें मरने नहीं देगी और हम तुम्‍हें जीने नहीं देंगे” तो अनारकली से ज्यादा खौफ दर्शकों के चेहरों पर नजर आता है। ये उनके बेहतरीन अभिनय की जीत का प्रमाण है।

थ्वीराज अभिनय की दुनिया में पापाजी के नाम से मशहूर थे। अगर देखा जाए तो वो वास्तम में फिल्मी दुनिया के ‘पापाजी’ थे। जिन्होंने रंगमंच और फिल्मी दुनिया को सोच का नया नजरिया दिया। अभिनय उनके खून में थे। अभिनय का वो खून आज उनकी चौथी पीढी में उसी शिद्दत के साथ बह रहा है। उनके बेटे राजकपूर के पोते और ऋषि कपूर के बेटे रणबीर कपूर उनके द्वारा शुरू की अभिनय परम्परा को आगे बढ़ा रहे हैं। नेड्रिक न्यूज, पृथ्वीराज के जन्मदिन के मौके पर उनके द्वारा किए गए बेहतरीन कार्यों को याद करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करता है।

 

 

[घर बैठे रोज़गार पाने के लिए Like करें हमारा Facebook Page और मेसेज करें JOB]

Lost Password

Register