Loading...
देश

जस्टिस चेलमेश्वर ने CJI को लिखा पत्र

जस्टिस चेलमेश्वर ने CJI को लिखा पत्र

जस्टिस चेलमेश्वर ने चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के लिए एक और चिट्ठी लिखी है। इस चिट्ठी में उत्तराखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस केएम जोसेफ को सुप्रीम कोर्ट में लाए जाने के लिए कहा गया है। आपको बता दें, केंद्र ने जस्टिस जोसेफ के नाम को मंजूरी नहीं दी थी।

चेलमेश्वर ने इस चिट्ठी के द्वारा सुप्रीम कोर्ट में जस्टिस जोसेफ की नियुक्ति की सिफारिशों पर अमल में आ रहे सभी नियमों के बारे में बाताने वाले कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद के पत्र के प्रत्येक बात का जवबाव दिया है। चेलमेश्वर ने इस पत्र में रविशंकर प्रसाद की हर दलील को खारिज करते हुए फिरसे जोर देते हुए कहा है कि, कोलेजियम अपनी सिफारिश पर कायम रहे और फिरसे केंद्र सरकार के लिए जस्टिस जोसेफ का नाम भेजें।

इससे पहले उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू द्वारा इस प्रस्ताव को खारिज करने के बाद कांग्रेस के दो राज्यसभा सांसदों की ओर से दी गई याचिका पर मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई थी। इस दौरान कोर्ट ने कांग्रेस सांसदों की अर्जी को खारिज कर दिया था।

इस मामले की सुनवाई पांच जजों की एक बेंच ने की, जिसकी अध्यक्षता जस्टिस अर्जन कुमार सीकरी कर रहे थे। इसके अलावा इस बेंच में जस्टिस शरद अरविंद बोबड़े, जस्टिस एनवी रमणा, जस्टिस अरुण मिश्रा और जस्टिस आदर्श कुमार गोयल शामिल थे।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा के खिलाफ विपक्ष के महाभियोग प्रस्ताव को राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने खारिज कर दिया था। इस महाभियोग प्रस्ताव को कांग्रेस सहित 7 पार्टियों का समर्थन हासिल था। समर्थन देने वाली पार्टियों में सीपीआई, सीपीएम, एनसीपी, बीएसपी, मुस्लिम लीग और समाजवादी पार्टी शामिल थे। इस प्रस्ताव के खारिज होने के बाद कांग्रेस के दो राज्यसभा सांसदों अमि याज्ञनिक और प्रताप सिंह बाजवा ने इसे खारिज होने को चुनौती देने वाली याचिका सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की थी।

Lost Password

Register