Loading...
लाइफस्टाइल

बासी रोटी के ये फायदे नहीं जानते होंगे आप

बासी रोटी के ये फायदे नहीं जानते होंगे आप

स्वास्थ्य की दृष्टि से हानिकारक है बासी खाना , फिर रोटी क्यों?

ऐसे तो बचा हुआ या बासी खाना स्वास्थ्य की दृष्टि से हानिकारक मना जाता है। 12 घंटे से अधिक रखे हुए भोजन को खाना फूड पॉइजनिंग जैसी कई बीमारियों को आमंत्रण देने के समान है। साथ ही ऐसे भोजन में पोषक तत्वों की मात्रा भी कम हो जाती है। ऐसा भोजन अक्सर लोग दुबारा गर्म करने के बाद ही खाते हैं जबकि ऐसा करना शरीर के लिए और भी घातक होता है।

ऐसे में अगर आपको भी बासी खाना खाने की आदत है तो अभी उसे छोड़ दें। लेकिन हां, कुछ ऐसे अनाज अवश्य हैं जिन्हें बासी खाना औषधि के समान माना गया है। इन्हीं में एक है बासी रोटी, लेकिन इसके लिए इसे खाने का भी एक विशेष तरीका है अन्यथा अन्य बासी खानों की तरह यह भी नुकसानदेह ही होगा।

सावधानी

हालांकि अन्य भोज्य पदार्थों की तरह अगर आप कई दिनों की रखी रोटी खाएंगे तो अवश्य ही नुकसान होगा, लेकिन यहां बासी का अर्थ 12 से 16 घंटे रखी रोटी से है। इसमें रात की बची रोटी को सुबह या सुबह की बची रोटी को आप रात में इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन यह इससे अधिक पुरानी नहीं होनी चाहिए। साथ ही रोटी गेहूं की हो।

प्रयोग का तरीका

शायद आपको पता ना हो, लेकिन बासी रोटी अगर दूध के साथ खाई जाए तो हाई ब्लड प्रेशर, मधुमेह, एसिडिटी जैसी पेट की कई समस्याओं आदि के लिए बेहद ही फायदेमंद है। इसके लिए आप इन्हें आगे बताई विधि से इस्तेमाल करें।

हाई बीपी

ठंढे दूध में बासी रोटी को भिगोकर 10 मिनट के लिए छोड़ दें। सुबह नाश्ते में इसे खाएं। अपनी पसंद से स्वाद के लिए आप इसमें चीनी भी मिला सकते हैं।

शुगर लेवल

मधुमेह के रोगियों को फीके दूध में यह रोटी भिगोकर खानी चाहिए। यह रक्त में शुगर लेवल को नियंत्रित करता है। इसके लिए ठंढे फीके दूध में रोटी भिगोकर 10 मिनट के लिए रखें और फिर खाएं। आप इसे दिन में किसी भी समय खा सकते हैं।

शरीर का तापमान नियंत्रण

आपको जानकर हैरानी होगी कि दूध के ऐसी रोटी के सेवन से शरीर का तापमान भी नियंत्रित होता है। इसलिए जिन्हें हाई स्ट्रोक आदि की परेशानी होती है उनके लिए गर्मियों में यह खाना बेहद फायदेमंद है।

पेट की समस्याएं

जिन्हें पेट की समस्याएं हों उनके लिए भी यह एक प्रकार की औषधि के समान ही है। रात के समय आप दूध के साथ इस रोटी का सेवन करें लेकिन दूध ठंढा ही लें। इससे कब्ज, एसिडिटी, पेट में जलन आदि पेट की समस्याएं दूर होती हैं।

दुबलेपन को हटाता है

आपको जानकर हैरानी होगी कि यह भोजन शरीर में बल वृद्धि भी करता है। दुबलेपन को दूर करने में भी यह विशेष कारगर है। इसके लिए आप उपर्युक्त में किसी भी विधि से, दिन के किसी भी समय इसका सेवन कर सकते हैं लेकिन रात के समय यह खाना ज्यादा फायदेमंद होगा।

 

Lost Password

Register