देश

मद्रास हाई कोर्ट का अहम फैसला, VIP और जजों के लिए टोल प्लाजा पर बने अलग लेन

मद्रास हाई कोर्ट का अहम फैसला, VIP और जजों के लिए टोल प्लाजा पर बने अलग लेन

Madras High Court wants separate lanes at toll plazas for VIPs, judges

जस्टिस हुलुवाडी रमेश और जस्टिस एमवी मुरलीधरन की डिवीजन बेंच ने बताया कि यह बहुत ही शर्मनाक बात है कि वीआईपी और जजों के वाहनों को टोल प्लाजा पर रोक दिया जाता है। यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि जजों को टोल प्लाजा पर मजबूरन 10 से 15 मिनट तक इंतजार करना पड़ता है और अपना आईडी कार्ड दिखाना पड़ता है।

मद्रास हाई कोर्ट की बेंच ने कहा की केंद्र और NHAI दोनों ही इस मामले को कभी गंभीरता से नही लेती है। बेंच ने कहा कि हर टोल प्लाजा पर एक अलग से वीआईपी लेन तैयार की जाए और यह टोल कलेक्टर की जिम्मेदारी होगी कि वह उस लेन से वीआईपी और जज के अलावा किसी और को निकलने न दें। अगर को जानबूझ कर और जो भी इस नियमों का उल्लंघन करता है तो टोल कलेक्टर के द्वारा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा सकती है।

Lost Password

Register