Loading...
देश

लालू ही नहीं, उनके बेटे भी जा सकते हैं जेल

लालू ही नहीं, उनके बेटे भी जा सकते हैं जेल

चारा घोटाला मामले में आरजेडी मुखिया लालू प्रसाद की मुसीबत भले ही एक दिन के लिए टल गई हो, लेकिन अब लालू के बेटे और पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव की मुश्किलें बढ़ गई है। रांची की विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाला में लालू यादव को दोषी ठहराया है। कोर्ट के फैसले के बाद आरजेडी नेताओं ने टिप्पणी करनी शुरू कर दी। फैसले पर टिप्पणी करने के लिए तेजस्वी यादव, रघुवंश प्रसाद सिंह और आरजेडी प्रवक्ता मनोज झा को अदालत की अवमानना का दोषी मानते हुए नोटिस जारी किया है। 23 जनवरी को कोर्ट ने तीनों दोषियों को पेशी के लिए बुलाया है। अगर मामला तेजस्वी के खिलाफ गया तो कोर्ट लालू के बेटे को जेल भी भेज सकता है।

23 दिसंबर 2017 को देवघर चारा घोटाला मामले में रांची की विशेष सीबीआई कोर्ट ने लालू यादव समेत 16 लोगों को दोषी करार दिया था। इसी मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा और ध्रुव भगत सहित 6 लोगों को बरी कर दिया गया था। आरजेडी प्रवक्ता मनोज झा ने अदालत के फैसले के बाद एक प्रेस कॉन्फ्रेंस भी की थी।

लालू के बेटे तेजस्वी यादव और आरजेडी के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह ने अदालत के फैसले के बाद लगातार टिप्पणी करनी शुरू कर दी थी। इस मामले पर पार्टी के वरिष्ठ नेता और पार्टी के प्रवक्ता मनोज झा ने कहा कि ये नोटिस मिलना चौकाने वाला है। उन्होंने कहा कि न्यायिक प्रक्रिया और फैसले पर उन्होंने एक शब्द भी नहीं बोला था।

बता दें कि लालू यादव के परिवार वाले एक अन्य आरोपी और पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को बरी किये जाने को आधार बनाकर सीबीआई अदालत के फैसले पर सवाल उठा रहे हैं। राजनीतिक दृष्टि से देखा जाए तो बिहार की राजनीति में प्रभावशाली इस परिवार की यह विरोध और आक्रामकता ठीक नहीं है। अगर उन्हें फैसले में कोई दोष नजर आता है तो उन्हें उच्च न्यायालय में अपील करना चाहिए।

Lost Password

Register