Loading...
आस्था

शनि के क्रोधित अवस्था में मिलते हैं ये संकेत, तुरंत कीजिए इसके उपाय

शनि के क्रोधित अवस्था में मिलते हैं ये संकेत, तुरंत कीजिए इसके उपाय

शनिदेव

हिन्दू धर्म ग्रंथों में शनिदेव को सूर्यपुत्र कहा गया है, ज्योतिष की बात करें तो समस्त ग्रहों में इन्हें ही न्याय करने का अधिकार प्रदान है। वह व्यक्ति को उसके कर्मों के हिसाब से दंड देते हैं, इसलिए कहा जाता है कि जिस जातक पर शनिदेव की वक्र दृष्टि पड़ जाती है, उसका जीवन तबाही की गहार पर पहुंच जाता है।

शनि की महिमा

शनिदेव धीमी चाम चलते हैं, इसलिए उनकी दशा भी साढ़े सात वर्ष की होती है। पुराणों में शनिदेव की महिमा का बखूबी बयां किया गया है, अगर वे शुभ स्थिति में किसी रंक को राजा बना सकते हैं तो वहीं अगर कुंडली में उनकी स्थिति अच्छी ना हो तो वह राजा को रंक बनाने में भी देरी नहीं करते।

शनिदेव की स्थिति

शनिदेव की स्थिति आपकी कुंडली में कैसी है ये तो एक अच्छा ज्योतिषशास्त्री ही बता सकता है, लेकिन इसके अलावा जीवन में कुछ ऐसी घटनाएं भी घटित होती हैं जो ये बताने के लिए काफी हैं कि आपके ऊपर शनिदेव का कैसा प्रभाव है। इस लेख के जरिए आज हम आपको ये बताने जा रहे हैं कि अगर शनिदेव आपसे क्रोधित है तो आपको कैसे-कैसे संकेत प्राप्त हो सकते हैं।

न्याय के देवता

अगर न्याय के देवता शनिदेव आपसे क्रोधित हैं तो आपके घर की बाहरी दीवार पर अपने आप पीपल का वृक्ष उगने लगता है। आप चाहे कितनी ही बार इउसे उखाड़ लें, वे फिर उगने लगेगा।

मकड़ियां

दिन में कई बार सफाई करने के बावजूद, अगर आपके घर में मकड़ियां मौजूद हैं, उन्होंने अपना जाल बना रखा है तो यह इस बात का संकेत है कि शनिदेव किसी वजह से आपसे क्रोधित हैं। आपको उन्हें शांत और प्रसन्न करने के उपाय अवश्य करने चाहिए।

चिंटियां

जिस जातक से शनिदेव क्रोधित होते हैं उसके घर में चिंटियां अपना बसेरा बनाकर रहने लगती हैं। अकसर चिंटियां मीठे खाने पर आती हैं लेकिन इस मसलें में वह नमकीन भोजन को भी नहीं छोड़तीं। घर की सफाई करने के बाद भी चिंटियां वहीं रहती हैं, तो यह आपके लिए चेतावनी है कि आपको शनि देव को प्रसन्न करने की कोशिश करनी चाहिए।

बॉस से खटपट

लाख प्रयत्न करने के बाद भी अगर आपके कार्य समय पर या आसानी से पूर्ण नहीं हो पाते, आपकी उन्नति के सभी द्वार बंद नजर आने लगे हैं तो यह इस बात का संकेत है कि शनि देव आपसे क्रोधित हैं। साथ ही बॉस से बिगड़ते संबंध, नौकरी में हमेशा खतरा मंडराना, अनचाही ट्रांसफर की स्थिति, यह सब शनिद देव के क्रोध के ही संकेत हैं।

पैतृक संपत्ति

शनिदेव के क्रोधित होने जैसे स्थिति पर व्यक्ति को संपत्ति से संबंधित मसलों में हार का सामना करना पड़ता है। उसके जीवन का एक लंबा समय संपत्ति की लड़ाई में बीत जाता है और फिर भी उसे सफलता नहीं मिलती। पैतृक संपत्ति को लेकर रिश्तेदारों से बहस हो सकती है।

शनिदेव का क्रोध

अगर आपके घर की दीवार बार-बार गिरती है, ठीक करवाने के बाद भी अगर वह स्थिर नहीं होती, कई बार तो घर दोबारा बनवाने की नौबत भी आ जाती है तो यह भी शनिदेव के क्रोध को ही दर्शाती है।

काली बिल्ली

काली बिल्लियों का घर में रहना और यही बच्चे देना, दो बिल्लियों का आपके घर में हमेशा लड़ते रहना, ये सब घर में शनिदेव के कुप्रभाव को दर्शाते हैं। दो बिल्लियों के घर में लड़ने से घर में क्लेश भी होते रहते हैं।

Lost Password

Register