Loading...
देश / मुख्य खबर

CBSE पेपर लीक मामले में 3 नाबालिग सहित 12 लोग गिरफ्तार

CBSE पेपर लीक मामले में 3 नाबालिग सहित 12 लोग गिरफ्तार

सीबीएसई पेपर लीक मामले में पुलिस की ओर से धरपकड़ जारी है। इस मामले में अब झारखंड से 12 लोगों की गिरफ्तारी हुई है। खबरों के मुताबिक झारखंड में ही सीबीएसई पेपर लीक का मास्टरमाइंड छिपा है।

इस मामले में झारखंड के चतरा जिले के एसपी ने प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि शनिवार को 12 लोगों की गिफ्तारी हुई है जिसमें से 9 लोग नाबालिग है जबकि तीन के खिलाफ आईपीसी एक्ट के तरह मामला दर्ज किया गया है। एसपी ने बताया कि इस मामले में एसआईटी जांच कर रही है और जल्द हम इस मामले के मास्टरमांइड की भी गिरफ्तारी होगी। इससे पहले भी इस मामले में दिल्ली में अबतक 25 लोगों से पूछताछ हो चुकी है।

बता दें कि सीबीएसई पेपर लीक मामले में शुक्रवार को नई तारीखों की घोषणा की गई है। जिसके मुताबिक 12वीं की अर्थशास्त्र विषय की परीक्षा 25 अप्रैल को होगी। जबकि 10वीं की परीक्षा जुलाई में हो सकती है।

इस बात की जानकारी शिक्षा सचिव अनिल स्वरूप ने दी। स्वरूप ने कहा कि 12 वीं कक्षा की अर्थशास्त्र की परीक्षा देशभर में 25 अप्रैल को आयोजित होगी, जबकि 10 वीं कक्षा की गणित की परीक्षा जुलाई में होगी।

साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि जरूरत पढ़ेगी तो 10 वीं की गणित की परीक्षा सिर्फ दिल्ली, दिल्ली एनसीआर और हरियाणा में ही आयोजित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस मामले में 15 दिनों के अंतर ही फैसला लिया जाएगा। साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि देश के बाहर फिलहाल दोबारा परीक्षा की जरूरत नहीं है।

गौरतलब है कि सीबीएसई पेपर लीक मामले में दिल्ली के बाद देश के बाकी शहरों में भी प्रदर्शन तेज हो गया है। इस मामले में अब लुधियाना और कानपुर में भी छात्रों द्वारा प्रदर्शन किया जा रहा है। इस बीच खबर है कि दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम इस मामले में विसलब्लोअर की तलाश में जुटी गई है। बताया जा रहा है कि इसी विसलब्लोअर ने सीबीएसई चेयरपर्सन को परीक्षा शुरु होने से पहले चेतावनी देते हुए एक ईमेल भेजा था। साथ ही इस ईमेल में हाथ से लिखे प्रश्नपत्रों को भी अटैच किया था। चुकिं ये ईमेल जीमेल आईडी से किया गया था इसलिए इस संबध में गुगल से भी सहायता ली जा रही है। क्रांइम ब्रांच की टीम ने इस संबध में गुगल से जवाब भी मांगा है।

Lost Password

Register